January 2019

पांच पहेलियाँ -2

पहेली 1- तुम न बुलाओ मैं आ जाऊँगी, न भाड़ा न किराया दूँगी, घर के हर कमरे में रहूँगी, पकड़ न मुझको तुम पाओगे, मेरे बिन तुम न रह पाओगे, बताओ मैं कौन हूँ? पहेली 2- गर्मी में तुम मुझको खाते, मुझको पीना हरदम चाहते, मुझसे प्यार बहुत करते हो, पर भाप बनूँ तो डरते भी हो। पहेली 3 – मुझमें भार सदा ही रहता, जगह घेरना मुझको आता, हर वस्तु से गहरा रिश्ता, हर जगह मैं पाया जाता पहेली 4- ऊपर से नीचे बहता हूँ, हर बर्तन को अपनाता हूँ, देखो मुझको गिरा न देना वरना कठिन हो जाएगा… Read More »

आज का चुटकुला

कुछ दिन पहले मेरे पास एक फ्रेंड रिक्वेस्ट आई । यह किसी *दिब्या शर्मा* के नाम से थी । एक्सैप्ट करने से पहले मैने आदतन उसकी प्रोफाइल को चैक किया… तो पता चला अभी तक उसकी मित्रता सूची में कोई भी नहीं है । शक हुआ कि कहीं कोई फेक तो नहीं है । फिर सोचा नहीं…., हो सकता है फेसबुक ने इस यूजर को नया मानते हुए इसे मेरे साथ मित्रता करने के लिए सज्जेस्ट किया हो… खैर मैनें रिक्वेस्ट एक्सेप्ट कर ली। सबसे पहले उसकी ओर से धन्यवाद आया.. फिर मेरे हर स्टेटस को *लाईक और कमेंटस* मिलने… Read More »

पांच पहेलियाँ

पहेली 1 – मेरे चार पैर हैं फिर भी मैं चल नहीं सकती हूँ और न ही बिना हिलाए हिल सकती हूँ लेकिन मैं सबको आराम जरूर देती हूँ. बताओ मैं कौन हूँ ? पहेली 2 – मेरी आँखें हैं लेकिन मैं देख नहीं सकती हूँ. मेरे कान हैं लेकिन मैं सुन नहीं सकती हूँ. मेरी नाक है लेकिन मैं सूंघ नहीं सकती हूँ. मेरा मुँह भी है लेकिन मैं खा नहीं सकती हूँ. यहाँ तक कि मेरे हाथ और पैर भी हैं लेकिन फिर भी न मैं किसी को पकड़ सकती हूँ और न ही मैं चल सकती हूँ.… Read More »

चार पहेलियाँ

पहेली 1: सोने को पलंग नहीं न ही महल बनाए एक रूपया पास न फिर भी राजा कहलाए पहेली 2 : परिवार हरा हम भी हरे एक थैली में तीन – चार भरे। बताओ क्या ? पहेली 3: पांच अक्षर का मेरा नाम उल्टा पुल्टा एक समान पहेली 4: मुझमें ना बीज ना गुठली छिलका उतार के खा लो तो बताओ मेरा नाम ? उत्तर शेर मटर मलयालम केला

जोक्स नये नये

*एक आदमी किश्ते नही भर रहा था तो कुछ गुंडे घर पे* *आगये ओर चिल्लाने लगे* *दरवाज़ा खोल आज नही छोड़ेंगे* *वो नहा रहा था* *खिड़की से देखा कुछ नागा साधु जा रहे थे।* *पिछली खिड़की से कूद कर* *बिना वस्त्र के वो भी शामिल हो गया उनमे* *चलते 2 किसी साधु ने कंधे पे हाथ रखा और पूछा* *तुम्हारी कितनी किश्ते बाकी हैं*🤪 क्लास रूम में प्रोफेसर ने एक सीरियस टॉपिक पर चर्चा प्रारंभ की। . जैसे ही वे ब्लैकबोर्ड पर कुछ लिखने के लिए पलटे तो तभी एक शरारती छात्र ने सीटी बजाई। . प्रोफेसर ने पलटकर सारी… Read More »

*बीवी का दिमाग*

बीवी गांव वाली हो या पढ़ी-लिखी, सभी औरतों का दिमाग ऊपर वाला एक ही फैक्टरी में बनाता है !!!! 😝 😝 *आप उस दिमाग को जानना चाहते हैं ना..* ➡चावल में पानी ज्यादा हुआ तो… 💁 – *”चावल नया था,”* ➡रोटियाँ कड़क हो गई तो… 💁- *”कमबख्त ने अच्छा आटा पीस कर ही नहीं दिया,”* ➡चाय ज्यादा मीठी हो गयी… 💁 *- “शक्कर ही मोटी थी”* चाय पतली हो गयी तो … 💁 *”दूध में पानी ज्यादा था,”* ➡शादी या किसी Function में जाते समय… 💁 *-“कौन सी साड़ी पहनूं..?”* *”मेरे पास अच्छी साड़ी ही नहीं है !”* ➡घर पर… Read More »

हिंदी पहेलियाँ

वो कौन सी चीज़ है जिसे खाने के लिए खरीदते हैं लेकिन उसे खाते नहीं लगाओ दिमाग ??? फेल हो गए क्या खुली रात में पैदा होती हरी घास पर सोती हूँ मोती जैसी मूरत मेरी बादल की मैं पोती हूँ बताओ क्या ? खुशबू है पर फूल नहीं जलती है पर ईर्ष्या नहीं बताओ क्या ? प्यास लगे तो पी लेना भूख लगे तो खा लेना ठण्ड लगे तो जला लेना बोलो क्या ? हरे रंग की टोपी मेरी हरे रंग का है दुशाला जब पक जाती हूँ मैं तो हरे रंग की टोपी लाल रंग का होता दुशाला… Read More »

😜😜😂😂😂😁😁 हा हा हा हा हा हा हा हा

😜😜😂😂😂😁😁 “गुप्ता जी के पड़ोस में सत्यनारायण कथा की आरती हो रही थी, आरती की थाली गुप्ता जी के सामने आने पर, गुप्ता जी ने अपनी जेब में से छाँट कर कटा फटा दस रूपये का नोट कोई देखे नहीं, ऐसे डाला । वहाँ अत्यधिक ठसाठस भीड़ थी । गुप्ता जी के कंधे पर ठीक पीछे वाली आंटी ने थपकी मार कर गुप्ता जी की ओर 2000 रूपये का नोट बढ़ाया । गुप्ता जी ने उनसे नोट ले कर आरती की थाली में डाल दिया । गुप्ता जी को अपने 10 रूपये डालने पर थोड़ी लज्जा भी आई । बाहर… Read More »